मेरा गद्य ब्लॉग - सोच विचार

Wednesday, January 19, 2011

महंगाई

महंगाई 


फैली महंगाई 
रक्तबीज सी,
बढ़ गई कीमत
हर एक चीज की |

देखो हालत 
पशोपेश की,
क्या दशा 
हो गई देश की ?

जिसको देखो 
परेशान लगे,
बाप, बेटे का 
मेहमान लगे |

ऐसे बनें 
अस्पताल,
करें दूर 
ये बीमारी गन्दी |

ऐसी सुविधाएँ 
हों मुहाल,
हो महंगाई की
नसबंदी |
                                          प्रवेश 

No comments:

Post a Comment