मेरा गद्य ब्लॉग - सोच विचार

Tuesday, September 16, 2014

बदलाव

बदलाव के बिना
विकास की यात्रा अधूरी है
आगे बढ़ने के लिए
बदलाव जरूरी है
मगर आज भी बड़ी भूख
छोटी आँत में ही बसती है
तारीखें दीवार पर और
सरकार दिल्ली में बदलती है | ~ प्रवेश ~

No comments:

Post a Comment