मेरा गद्य ब्लॉग - सोच विचार

Friday, February 8, 2013

धर्म परिवर्तन

सींगों पर धार लगाकर
निकल पड़ी हैं शिकार पर  ,
शुद्ध शाकाहारी बकरियाँ
धर्म परिवर्तन पर उतारू हैं ।
जीवन तो जीवन है
वनस्पति हो या जीव ,
वृद्धि , संवेदना
या वंश प्रसार
दोनों ही तो करते हैं ।
तो बकरियाँ भी
अब मांसाहार करेंगी ,
शेर घास जो खाने लगे हैं ।

                                    " प्रवेश "

No comments:

Post a Comment