मेरा गद्य ब्लॉग - सोच विचार

Wednesday, September 5, 2012

हाइकु - कौन अमर !

हाइकु - कौन अमर !

कौन अमर !

सब कुछ नश्वर ,

गम न  कर ।

                            " प्रवेश "

No comments:

Post a Comment