मेरा गद्य ब्लॉग - सोच विचार

Thursday, February 17, 2011

राजनीति से दूर नेता

राजनीति से दूर नेता

नेता जी के मुख से छूटा
जो विवादास्पद बयान ,
कोई दोष नहीं उनका 
रपट जाती है जबान |

क्या हुआ कुछ बोल दिया ,
क्यों आप हैं इतने परेशान ?
मत तूल दो इन बातों को इतना ,
आखिर ये  भी हैं इंसान |

इनकी  भी ख्वाहिश है ,
ये  भी नेता बनें महान ,
अच्छा बोलने की कोशिश में ,
कभी फिसल जाती है जबान |

ये  वो नहीं जो सत्ता में ,
पद के मद में मगरूर हैं ,
गुड़ से मक्खी की तरह ,
नेता जी  राजनीति से दूर हैं |
                                                              " प्रवेश "

No comments:

Post a Comment